Digilocker एप्लीकेशन के जरिए ड्राइविंग लाइसेंस, आधार, Voter ID, Mark Sheet जैसे जरूरी डॉक्युमेंट्स अपने मोबाइल में रख के कहीं भी जा सकते है

डिजीलॉकर एक ऐसी सरकारी वेबसाइट और ऐप है, जिसमें आप अपने ज्यादातर सरकारी डॉक्युमेंट्स को सुरक्षित स्टोर कर सकते हैं।इन डॉक्युमेंट्स में वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, इनकम टैक्स रिटर्न डॉक्युमेंट, LPG गैस कनेक्शन डॉक्यूमेंट, प्रोपर्टी टैक्स की रसीदें जैसे डॉक्युमेंट्स शामिल हैं। Digilocker पर डॉक्युमेंट रखने का फायदा यह है कि आप इसे कही से भी यूज़ कर सकते हैं और इसमें सेव किए गए डॉक्युमेंट हर जगह मान्य होते हैं।

सितंबर 2016 में भारत सरकार ने Digilocker नाम से एक सर्विस लॉन्च की थी। इस सर्विस को भारत सरकार ने डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत लॉन्च किया था। हालांकि अभी भी काफी लोगो को इस सर्विस के बारे में किसी प्रकार की जानकारी नहीं है और कई यूजर्स तो इसे इस्तेमाल करना नहीं जानते हैं। आप को बता दे इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर यूजर्स अपने कई महत्वपूर्ण डॉक्युमेंट्स को एक जगह पर डिजिटल रूप में सेव कर सकते हैं और फिर कहीं से भी एक्सेस कर सकते हैं। ऐसे में हम आपके लिए Digilocker से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां लेकर आए हैं जो आप को इसे कैसे यूज़ लेना है सब समझ में आजायेगा और यहां हम आपको ‘Digilocker क्या है’, ‘और यह कैसे काम करता है’ और ‘आप इसमें अपने डॉक्युमेंट कैसे स्टोर कर सकते हैं’ जैसी सभी की महत्वपूर्ण जानकारी देगे। 

क्या है डिजीलॉकर?

डिजीलॉकर एक ऐसी सरकारी वेबसाइट और ऐप है, जिसमें आप अपने जरुरी सरकारी डॉक्युमेंट्स को स्टोर कर सकते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ आधार कार्ड की आवश्यकता होती है।
आधार कार्ड के द्वारा आप अपने सभी डॉक्युमेंट को डिजीलॉकर पर स्टोर कर सकते हैं जो पूर्णतय सुरक्षित है। इन डॉक्युमेंट्स में वोटर आईडी, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, इनकम टैक्स रिटर्न डॉक्युमेंट, LPG गैस सर्विस डॉक्यूमेंट, प्रोपर्टी टैक्स की रसीदें जैसे डॉक्युमेंट्स शामिल हैं। इसके अलावा भी कई सरकारी डिपार्टमेंट सर्विस हैं जो इस डिजीलॉकर को सपोर्ट करते हैं। अपने मुताबिक किसी भी डिजीलॉकर सपोर्ट करने वाली सरकारी डिपार्टमेंट की वेबसाइट से अपने स्टोर डॉक्युमेंट को डाउनलोड कर सकते हैं। इसके लिए यूजर्स को Digilocker की वेबसाइट (https://digilocker.gov.in/) में या App में पहले अपना अकाउंट बनाना होगा जोकि मोबाइल नंबर और आधार कार्ड से बन जाता है। Digilocker पर डॉक्युमेंट रखने का फायदा यह है कि आप इसे कही से भी एक्सेस कर सकते हैं और इसमें लिंक किए गए डॉक्युमेंट हर जगह मान्य होते हैं। उदाहरण के लिए यदि कभी ट्रैफिक पुलिस आपसे आपका ड्राइविंग लाइसेंस Vehicel RC मांगती है और आपके पास ऑरिजनल हार्डकॉपी डॉक्युमेंट नहीं है, तो आप डिजीलॉकर
में लिंक किया हुआ अपना लाइसेंस और RC दोनों दिखा सकते हैं और यह पूर्णतय मान्य है। इसकी तरह आप और भी कई जगह इसका सही इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे बनाएं डिजीलॉकर अकाउंट?
डिजीलॉकर मे साइन-अप (Sign-Up) करने के लिए शुरुआती तौर पर यूजर्स को आधार कार्ड नंबर की आवश्यकता पड़ती है।फिर आधार कार्ड नंबर से ही आप digilocker में आसानी से साइन-अप कर सकते हैं। अब आप को डिजीलॉकर ऐप और वेबसाइट पर किस तरह साइन-अप करना है उस का तरीका बताते है।

पहला स्टेप
अपने मोबाइल में Google Play Store में जाके वहां से डिजीलॉकर ऐप को डाउनलोड कर इंस्टॉल कर लेवे।

दूसरा स्टेप
अब ऐप को ओपन करें और फर्स्ट टाइम यूजर है तो Sign-Up पर क्लिक करें। और यदि आपका अकाउंट पहले से बना हुआ है तो सीधा Sign-In पर जाये।

तीसरा स्टेप
sign-up पर क्लिक करने के बाद आपको अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालना होगा, जिसके बाद आपको एक sms आएगा उस में OTP मिलेगा। फिर उस OTP को ऐप में सबमिट करने के बाद ऐप आपको यूजर नेम और पासवर्ड बनाने का आप्शन देगा। यहां आपको अपना यूजर नेम और पासवर्ड बनाना होगा।

और इस प्रकार आपका Digilocker अकाउंट बन कर तैयार हो जाएगा। खास बात है कि डिजिलॉकर पर आपको अपनी प्रोफाइल बनाने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ेगी, क्योंकि प्रोफाइल पिक्चर, नेम, एड्रेस आदि सभी जानकारियां सीधे आपके आधार कार्ड के द्वारा ले ली जाएगी।
आप डिजीलॉकर अकाउंट को फेसबुक और जीमेल से भी सिंक कर सकते हैं और उपयोग में ले सकेगे।

कैसे अपलोड या फैच करें डॉक्युमेंट्स?

पहला स्टेप
डिजीलॉकर में यूजर्स को 1GB तक डाटा स्टोरेज की क्षमता मिलती है। डॉक्युमेंट्स अपलोड करने के लिए सबसे पहले यूजर वहां दिए गए डॉक्युमेंट टाइप को चुनें। यहां आपको आधार कार्ड, Pan कार्ड, वोटर ID कार्ड आदि डॉक्युमेंट ऑप्शन मिलेंगे।

दूसरा स्टेप
डिजीलॉकर अकाउंट में डॉक्युमेंट अपलोड करते समय ध्यान रखे कि आप केवल कुछ चुनिंदा फॉर्मेट में ही आप अपने डॉक्युमेंट अपलोड कर सकते हैं। इनमें JPEG, PDF, JPG, PNG और BMP फॉर्मेट शामिल हैं। और साथ ही यह भी ध्यान रखें कि फाइल का साइज 1MB से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

डॉक्युमेंट्स को किसी भी सरकारी वेबसाइट से सीधा फैच करने का तरीका:-
आप सरकारी डिपार्टमेंट की वेबसाइट से सीधा अपने डॉक्युमेंट को फैच कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने डिजीलॉकर ऐप के होम पेज पर जाकर Issued टैब पर जाना होगा और नीचे Search वाले आइकॉन पर क्लिक करना होगा। और फिर यहां आपको अपने डॉक्युमेंट के अनुसार डिपार्टमेंट चुनना होगा और अगले पेज पर पूछी गई सभी डिटेल को सबमिट कर अपना डॉक्युमेंट फैच करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here